लॉकडाउन में जमकर हाईकोर्ट की फटकार के बाद हरकत में आया चुनाव आयोग; 2 मई को मतगणना के दिन विजय जुलूसों पर लगाया बैनबिक रही शराब, कोचियाओ का बोल बाला

मद्रास HC ने पश्चिम बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में विधानसभा चुनावों के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं करवाने के लिए EC को फटकार लगाई थी।

हाल ही में मद्रास उच्च न्यायालय (HC) ने चुनाव आयोग (ECI) से पूछा था कि चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा चुनावों के लिए मतगणना (वोटों की गिनती) के दिन COVID प्रोटोकॉल का पालन कैसे किया जाएगा? साथ ही कोर्ट ने इसके लिए एक खाका तैयार करने के लिए चुनाव आयोग से कहा था। वहीं अब चुनाव आयोग ने 2 मई को मतगणना के दिन सभी तरह की विजय जुलूसों पर प्रतिबंध लगा दिया है। चुनाव आयोग द्वारा एक नोटिस भी जारी किया गया है। नोटिस के अनुसार, संबंधित निर्वाचन अधिकारी से चुनाव का प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए सिर्फ दो लोग ही जीते हुए उम्मीदवार के साथ जा सकते हैं।इससे पहले सोमवार को मद्रास HC ने पश्चिम बंगाल, असम, केरल, तमिलनाडु और पुडुचेरी में विधानसभा चुनावों के दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं करवाने के लिए EC को फटकार लगाई थी।

कोर्ट ने कहा था कि कोरोना की दूसरी लहर के लिए चुनाव आयोग जिम्मेदार है। राजनीतिक दलों की रैलियों को बिना कोरोना प्रोटोकॉल के आयोजन होने पर मद्रास उच्च न्यायालय ने भारतीय चुनाव आयोग (ECI) की खिंचाई की थी। 

आपको बता दें, बंगाल में कोरोना के मामले अब तेजी से बढ़ रहे हैं। चुनाव आयोग ने बंगाल में 8 चरणों में चुनाव कराए थे। जिसपर ममता बनर्जी ने सवाल उठाए थे। वहीं अब एक बार फिर से ममता ने कहा है कि आठ चरणों में चुनाव कराकर क्या चुनाव आयोग बंगाल की जनता को मारना चाहती है।

कोरोना की दूसरी लहर देश में कहर बरपा रही है। मामले 3 लाख के पार पहुंच गए हैं। वहीं रोजाना देश में 28 सौ के करीब लोगों की मौत हो रही है। वहीं अब बंगाल, केरल, असम में भी मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। 

आपको बता दें, चार राज्यों और एक  केंद्र शासित प्रदेश के चुनावी नतीजे 2 मई को आएंगे। वहीं अभी बंगाल में अंतिम चरण के लिए वोटिंग होनी बाकी है। राज्य में 29 अप्रैल को अंतिम चरण के लिए वोटिंग होना है। 

Visits: 133 Today: 2 Total: 78493

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *