छत्तीसगढ़ में ऑक्सीजन सिलेंडर के औद्योगिक उपयोग को लेकर भूपेश सरकार ने बड़ा फैसला लिया है.

छत्तीसगढ़ में ऑक्सीजन सिलेंडर के औद्योगिक उपयोग को लेकर भूपेश सरकार ने बड़ा फैसला लिया है. सरकार ने ऑक्सीजन सिलेंडर के औद्योगिक उपयोग पर प्रतिबंध लगा दिया है. कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार ने फ़ैसला लिया  है. जानकारी के मुताबिक  22 अप्रैल से आगामी आदेश तक प्रतिबंध जारी रहेगा. औद्योगिक आपूर्ति रोककर मेडिकल ऑक्सीजन में परिवर्तित किए जाने का आदेश जारी किया गया है. इससे कोरोना मरीजों को ऑक्सीजन मिल सकेगा.

 

ऑक्सीजन की कमी के कारण दम तोड़ दिए मरीज

दरअसल, छत्तीसगढ़ में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच ऑक्सीजन की मांग बढ़ गई है. कोरोना मरीजों को ऑक्सीन के लिए दर-दर भटकना पड़ता है. प्रदेश में कई ऐसे मरीज थे, जो ऑक्सीजन की कमी के कारण दम तोड़ दिए. ऐसे में सरकार ने यह कदम उठाया है, जिससे मरीजों को ऑक्सीजन मिल सके.

केंद्र सरकार ने छत्तीसगढ़ सरकार को पत्र लिखकर कोविड-19 महामारी के कारण ऑक्सीजन सिलेंडर के औद्योगिक उपयोग पर प्रतिबंध के निर्देश दिए थे. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक कोरोना संक्रमण में तेजी से वृद्धि हो रही है, जिससे अस्पतालों में ऑक्सीजन की मांग बढ़ गई है. औद्योगिक इकाईयों को ऑक्सीजन की आपूर्ति और उपयोग को नियंत्रित करते हुए मेडिकल ऑक्सीजन में परिवर्तित करने की आवश्यकता है.

Visits: 120 Today: 1 Total: 106152

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *