सारंगढ़ में फिर सक्रीय हुए बिचौलिये, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में अपात्रो को पात्र बना कर सरकार को लगा रहे हैं लाखो का चुना

सारंगढ़ : किसानों के लिए शुरू की गई केंद्र सरकार की प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई। बिना भूमि के ही और दस हजार से अधिक पेंशनधारी भी निधि की किस्त ले रहे थे। योजना के तहत लाखों रुपए अपात्रों के खाते में जा रहे हैं। पीएम किसान सम्मान निधि योजना की शुरूआत 24 फरवरी 2019 को हुई थी। योजना के तहत लगभग साढ़े सात लाख किसानों ने रजिस्ट्रेशन कराया था। वर्तमान में छह लाख 32 हजार किसानों को योजना का लाभ मिल रहा है। योजना के तहत हर वर्ष तीन किस्तों में दो-दो हजार रुपए पात्र किसानों के खाते में भेजे जाते हैं। अब तक पांच किस्तों में एक-एक किसान को दस-दस हजार खाते में भेजे जा चुके हैं। फर्जीवाड़े की शिकायत पर कृषि निदेशालय ने जिले के चिन्हित सैकड़ों गांवों के किसानों सत्यापन कराने का निर्देश दिया था। इस पर कृषि विभाग के साथ ही राजस्व टीम ने संयुक्त रूप से सत्यापन किया। और अपात्र लोगो की सूचि तैयार की गई जिसमे लगभग सैकड़ो लोग अपात्र निकले, कई ऐसे भी किसान बन बैठे हैं,जिनके नाम से जमीन नहीं है। उनके पिता या बेटे के नाम से जमीन है। इसके बाद भी योजना का लाभ ले रहे थे। इसके अलावा कुछ ऐसे किसान भी हैं,जो सरकारी नौकरी से रिटायर होने के बाद दस हजार से अधिक पेंशन ले रहे हैं। वही आठ से दस वर्ष के बच्चो को भी किसान बना कर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना ला लाभ पहुंचा रहे हैं, आपको बता दें सारंगढ़ में कुछ महीने पूर्व प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में भ्रष्टाचार कर अपात्र लोगो को लाखो का फायदा पहुंचा कर अपनी जेब भरने वाले बिचौलियों पर तत्कालीन थाना प्रभारी आशीष वासनिक ने कार्यवाही करते हुए तीन बिचौलियों को जेल भेजा था, वही एक बार फिर बिचौलिये सक्रिय हो गए हैं, और अपात्र लोगो को पैसा लेकर योजना का लाभ दिलवा रहे हैं, वही इस मामले में मिली जानकारी के अनुसार एक बार फिर सारंगढ़ क्षेत्र में सक्रिय बिचौलियों के खिलाफ लिखित शिकायत होने वाली है!

Visits: 270 Today: 6 Total: 130277

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *